कमीना compleet

Discover endless Hindi sex story and novels. Browse hindi sex stories, adult stories ,erotic stories. Visit pddspb.ru
rajaarkey
Platinum Member
Posts: 3125
Joined: 10 Oct 2014 04:39

Re: कमीना

Unread post by rajaarkey » 28 Oct 2014 14:22

कमीना--3

गतान्क से आगे...........................

..

अगले दिन रवि अपनी दीदी को कॉलेज लेकर उसे छोड़ कर अपनी क्लास मे आ जाता है और फिर उसकी नज़र सोनिया से मिलती है

सोनिया उसको देख कर स्माइल मारती है और वह सोनिया को देख कर आँख मार देता है और सोनिया को उससे ऐसी उम्मीद नही

थी और वह अपने चेहरे पर गुस्सा लाती हुई अपने नज़रे उससे हटा लेती है, रवि बराबर उसको देखता रहता है, कुछ देर बाद

सोनिया फिर से रवि की ओर देखती है तो इस बार रवि उसको दूर बैठा -बैठा चूमने का इशारा करता है, सोनिया अपने चेहरे

पर कठोर भाव लाकर उसकी ओर देखती है और फिर उसके मुँह से एक ही शब्द निकलता है कमीना.

क्लास छूटने पर सोनिया कॉफी पीने के लिए जाती है तभी रवि आ जाता है

रवि- हाय सोनिया

सोनिया- रुक कर गुस्से से क्या है

रवि- अरे नाराज़ क्यो होती हो मे तो सिर्फ़ तुम्हे ये कह रहा था कि चलो साथ चल कर कॉफी पीते है

सोनिया- मुझे नही पीनी तुम्हारे साथ कॉफी

रवि- नाराज़ हो मुझसे

सोनिया- तुम्हे शर्म नही आती क्लास मे सब के सामने ऐसी हरकत करते हुए

रवि- ओह तो तुम ये कहना चाहती हो कि मुझे ऐसी हरकत सबके सामने नही करना चाहिए

सोनिया- रवि मे तुमसे कोई बात नही करना चाहती प्लीज़ मुझे अकेला छोड़ दो

रवि- उसका हाथ पकड़ कर तुम समझती क्या हो अपने आप को, मे तुम्हारे लिए पागल हू और तुम मुझे कोई रेस्पोन्स नही

दे रही हो

सोनिया- उसकी तरफ आँख निकाल कर, रवि मेरा हाथ छोड़ो

रवि- नही छोड़ूँगा क्या कर लोगि

सोनिया- अपने आँखे दिखा कर, रवि तुम मेरा हाथ छोड़ते हो कि नही

रवि- उसका हाथ छोड़ते हुए, जानेमन इतना गुस्सा करती हो तो तुम नही जानती तुम कितनी सेक्सी नज़र आने लगती हो

सोनिया- रवि किसी बात की हद होती है

रवि- तुम भी ना यार थोड़ा सा मज़ाक कर लिया तो तुम इतना भड़क जाती हो मे तो सिर्फ़ तुम्हारे साथ कॉफी पीना चाहता हू और

तुम बात का बतंगड़ बना रही हो अब चलो चल कर कॉफी पीते है

सोनिया रवि के साथ कॉफी हाउस मे जाकर बैठ जाती है और रवि दो कॉफी ऑर्डर कर देता है तभी उधर से पायल आ जाती

है,

पायल- ओफ्फ हो क्या बात है एक मुलाकात मे ही तुम दोनो कॉफी पीने आ गये इट्स ग्रेट,

सोनिया- मुस्कुरा कर आ बैठ पायल

पायल- हाँ वो तो बैठूँगी ही पर मेरे इस कमीने भाई से तूने बहुत जल्दी दोस्ती कर ली

रवि - दीदी तुम भी ना अब एक ही क्लास मे है तो दोस्ती तो हो ही जाएगी ना

पायल- सोनिया रवि तुझे परेशान तो नही करता है ना, अगर करता हो तो मुझे बता देना मे इसकी पिटाई लगा दूँगी और

दोनो रवि को देख कर हस्ने लगते है

रवि- अरे दीदी मे क्यो सोनिया को परेशान करने लगा और सोनिया के कसे हुए दूध को घूर कर देखते हुए अपनी जीभ

पर होंठ फेरने लगता है

पायल का ध्यान उसकी ओर नही रहता है लेकिन सोनिया रवि की हरकत को देख कर रवि को आँख दिखाते हुए अपने होंठ को

इस तरह हिलाती है जैसे कमीना कह रही हो,

रवि उसके लबो के शब्दो को भाँप लेता है और अपने मन मे कहता है मेरी रानी जिस दिन इस कामीने का लंड तुम्हारी चूत

मे जाएगा उस दिन तुम्हे पता चलेगा कि यह कमीना क्या चीज़ है, और तुम्हारे चक्कर मे कही मेरी दीदी भी मुझ से

चुद ना जाए ये भी खूब फुदकती है इसकी चूत लगता है मुझे मारनी ही पड़ेगी तभी इसकी अकल ठिकाने आएगी,

rajaarkey
Platinum Member
Posts: 3125
Joined: 10 Oct 2014 04:39

Re: कमीना

Unread post by rajaarkey » 28 Oct 2014 14:23

थोड़ी देर तक रवि लगातार सोनिया के दूध को देखता रहता है, और सोनिया अपनी नज़रे चुरा -चुरा कर उसकी नज़रो को अपने

दूध पर महसूस करती रहती है, लेकिन सिवाय मन मे गुस्सा करने के वह कुछ नही कर पाती है, थोड़ी देर बाद पायल उठ

कर चली जाती है और उसके जाते ही सोनिया भी उठ कर

सोनिया - मे चलती हू

रवि- उसका हाथ पकड़ कर अरे इतनी जल्दी कहाँ जा रही हो और उसे फिर से बैठा लेता है

सोनिया बैठ कर इधर उधर देखने लगती है

रवि- सोनिया तुम मुझसे प्यार करती हो ना

सोनिया- हस्ते हुए, प्यार और वो भी तुमसे

रवि- क्यो क्या कमी है मुझमे

सोनिया- खूबी भी तो कोई नही है

रवि- अपने हाथ को अपनी पेंट की चैन पर ले जाकर सोनिया को देखता हुआ, देखना चाहोगी क्या खूबी है मुझमे

सोनिया- उसकी बात का मतलब समझ कर एक दम घबरा कर इधर उधर देखने लगती है और उसके होंठ सूखने लगते है

रवि- उसकी स्थिति को भाँप कर अरे घबराओ नही मे तुम्हे अपनी खूबी नही दिखाता हू, लेकिन सोनिया मे तुमसे बहुत प्यार

करता हू, वैसे भी तुममे तो बहुत सारी खूबिया है और मेरी खूबी तो तुम्हे नज़र नही आती है और सोनिया को देख कर

उसके मोटे-मोटे दूध को देखता हुआ लेकिन सोनिया तुम्हारी खूबिया तो मुझे साफ नज़र आती है, और तुम्हारी खूबिया

मुझे बहुत अच्छी लगती है,

सोनिया- रवि की बात सुन कर अपनी नज़रे नीचे झुका लेती है और कुछ देर बाद रवि अब हमे चलना चाहिए

रवि- पर सोनिया मुझे तो लगता है कि तुम मेरे साथ इसी तरह बैठी रहो और हमारी जिंदगी यू ही कट जाए

सोनिया- रवि अब चलो भी,

रवि- ओके बाबा चलो और उसके साथ चल देता है, रवि सोनिया एक बात कहु

सोनिया- क्या

रवि- मेरे साथ मूवी देखने चलॉगी

सोनिया- उसको देखते हुए मुस्कुरा कर तुमने सोच कैसे लिया कि मे तुम्हारे साथ मूवी देखने चलूंगी

रवि- क्यो मे तुम्हे काटता हू

सोनिया- तुम्हारा क्या भरोशा

रवि- सोनिया तुम मुझसे जितना दूर भागती हो मेरा दिल तुम्हारे उतना ही पास आने का करता है

सोनिया- रवि तुम दिन मे भी सपने देखते रहते हो

रवि- मेडम सपनो को हक़ीकत बनते देर नही लगती

रवि- बोलो चलोगि मूवी देखने

सोनिया- नही

रवि- ओके जैसी तुम्हारी मर्ज़ी, और रवि उसके पास जाकर एक दम से उसके गालो को चूम लेता है

सोनिया- उसकी इस हरकत से सिहर जाती है और अपना मुँह फाडे उसको देखती रह जाती है और रवि अपनी क्लास मे घुस जाता है,

rajaarkey
Platinum Member
Posts: 3125
Joined: 10 Oct 2014 04:39

Re: कमीना

Unread post by rajaarkey » 28 Oct 2014 14:23

रात को रोहित अपने रूम मे सोया रहता है और पायल भी अपने रूम मे लेटी रहती है और रवि टीवी ऑन करके हॉल मे बैठा

रहता है और एक इंग्लीश मूवी चलती रहती है जिसमे कुछ उत्तेजक सीन देख कर रवि का लंड बिल्कुल तना रहता है और रवि

अपने लंड को अपने पाजामे के उपर से सहलाता रहता है, तभी पायल सोचती है कि थोड़ी देर टीवी देखते है नींद तो आ नही

रही और जैसे ही हॉल मे आती है उसे रवि सोफे पर बैठा दिखाई देता है और उसकी पीठ पायल की ओर होती है टीवी का सीन

देख कर पायल एक दम रुक जाती है जिसमे एक आदमी एक औरत के उपर चढ़ कर उसकी चूत मे धक्के मार रहा था और वह

औरत कराहते हुए अपनी दोनो जाँघो को खोल कर अपनी टाँगो को उस आदमी की कमर मे लपेटे हुए थी और वह आदमी

कस-कस अकर उसकी चूत को ठोक रहा था, पायल यह सीन देख कर गरम हो गई और उसके होंठ सूखने लगे और वह अपनी

जीभ को अपने होंठो पर फेरती हुई धीरे-धीरे आगे बढ़ी तभी अचानक उस औरत की चूत नज़र आ जाती है और रवि अपने

आप को रोक नही पता है और पाजामे को अपने अंगूठे मे फसा कर दूसरे हाथ से अपने मोटे लंड को बाहर निकाल कर

उसके टोपे को खोलता हुआ देखने लगता है और पायल की नज़र जब रवि के मस्त मोटे लंड पर पड़ती है तो उसकी सांस रुक जाती

है और उसका मुँह खुला का खुला रह जाता है,

पायल अपना मुँह फाडे उसके मोटे लंड को देखती रहती है और रवि अपनी मस्ती मे मगन अपने मोटे लोड्‍े को सहलाता

रहता है पायल उसके तगड़े लंड को देख कर गरम हो जाती है और उसकी चूत पानी छोड़ने लगती है और उसका हाथ अपने आप

अपनी चूत मे चला जाता है और वह अपनी चूत को सहलाने लगती है, तभी वह सीन ख़तम हो जाता है और रवि वापस

अपने लंड को अपने पाजामे मे डाल लेता है और पायल चुपचाप वापस अपने रूम मे आ जाती है पर उसकी चूत मे बहुत

ज़्यादा खुजली बढ़ जाती है और वह पूरी नंगी होकर अपनी चूत को अपनी उंगलियो से छेड़ने लगती है, उसकी आँखो के सामने

रवि का मोटा लंड झूलने लगता है और वह बस यह कल्पना करने लगती है कि रवि उसकी चूत को अपने लंड से कस-कस कर

चोद रहा है, आ आ हे रवि फाड़ दे मेरी चूत और पायल की उंगलिया उसकी चूत मे तेज़ी से आगे पीछे होने लगती है,