कमीना compleet

Discover endless Hindi sex story and novels. Browse hindi sex stories, adult stories ,erotic stories. Visit pddspb.ru
rajaarkey
Platinum Member
Posts: 3125
Joined: 10 Oct 2014 04:39

Re: कमीना

Unread post by rajaarkey » 27 Oct 2014 14:48

तभी पायल की नज़र रवि की आँखो पर

पड़ती है और वह देख लेती है कि रवि कहाँ देख रहा है और अपनी टाँगो को नीचे करते हुए गुस्से से रवि को देख कर

कमीना कही का कह कर उठ कर अपने मोटे-मोटे चुतड मटका कर अपने रूम मे जाने लगती है और रवि उसके गदराए

चुतडो के पीछे अपनी नज़र लगा देता है और रूम मे घुसने से पहले अपनी आदत के अनुसार पायल एक दम से पलट कर

रवि को देखती है और रवि की भूखी नज़रे अपनी मोटी गान्ड पर पाती है तभी रवि उसको देख कर सकपका जाता है और अपना

मुँह दूसरी और घुमा लेता है और पायल एक हल्की सी स्माइल मारते हुए रूम मे घुस जाती है,

पायल अपने बेड पर लेट कर अपनी गदराई चूत मे पेंटी के अंदर से हाथ डाल कर सहलाती हुई सोचती है, रवि कितना कमीना

है कैसे आँखे फाड़-फाड़ के मेरी मोटी गान्ड को घूर रहा था जैसे की खा जाएगा, कमीना अपनी बहन को भी नही

छोड़ता है, कही अगर मे इसके सामने नंगी खड़ी हो जाउन्गि तो कही मुझे चोद ना दे, कभी -कभी तो इसका लंड पाजामे के

उपर से कितना बड़ा नज़र आता है और सुबह -सुबह कैसा तना रहता है, इसका लोड्‍ा कितना मोटा होगा, आह और अपनी चूत को

पायल सहलाने लगती है और उसकी चूत से पानी बहने लगता है, पायल अपने आप से बाते करते हुए कमीना ज़रूर मुझे

नंगी देखने के लिए मरा जा रहा होगा, मेरी मोटी गान्ड और दूध को तो दिन भर ही घूरता रहता है लगता है अपनी बहन

के उपर चढ़ कर चोदने के लिए मरा जा रहा है अगर मे इसके सामने नंगी हो जाउ तो ये क्या करेगा, कही मुझे पकड़

कर ज़बरदस्ती चोदने लगा तो और पायल की चूत पानी छोड़ने लगती है और वह अपनी दो उंगलिया अपनी चूत मे भर कर

सहलाने लगती है और उसकी नज़रो के सामने रवि का कल्पना किया हुआ मोटा लंड झूलने लगता है, हाय मोटे -मोटे लंड से

चुदवाने मे कितना मज़ा आता होगा, आह जब उंगली से ही इतना अच्छा लगता है तो लंड की तो बात ही अलग होगी, आह आह पायल

अपनी चूत मे खूब उंगली डाल-डाल कर झाड़ जाती है और फिर एक घंटे आराम करने के बाद बाहर आती है.

रवि और पायल सोफे पर बैठे कॉफी पी रहे थे तभी दरवाजे की कॉल बेल बजती है और रवि उठ कर गेट खोलता है और

उसके सामने जो होता है उसको देख कर रवि की आँखे खुली की खुली ही रह जाती है और वह एक दम से अपना दिल थाम लेता है

और रवि के मुँह से निकलता है

"हमने सोचा था कि हम आप से बस ख्वाबो मे ही मिल पाएगे

हमे क्या मालूम था कि आप इस तरह अचानक हमारे सामने आ जाएगे"

सोनिया- तुम यहा

रवि- वही तो मे भी पूछना चाहता हू कि आप यहा मेरे घर पर

सोनिया- ओ तो ये तुम्हारा घर है, पर यह अड्रेस तो मुझे पायल ने दिया था

रवि - आप कैसे जानती है पायल को

सोनिया- शी ईज़ माइ फ्रेंड्स

रवि- मुस्कुराते हुए आंड यू आर माइ गर्लफ्रेंड

सोनिया- वेरी फन्नी

रवि - बट यू आर स्वीट हन्नी

सोनिया- शट अप

रवि - कम इन

सोनिया- पहले बताओ पायल है

तभी अंदर से पायल की आवाज़ आती है कौन है रवि, रवि दीदी कोई आपसे मिलने आया है, और सोनिया अंदर आ जाती है और

पायल सोनिया को देख कर अपना हाथ आगे बढ़ाते हुए उसको गले लगाकर आ अंदर आ और उसे सोफे पर बैठते हुए खुद

भी उसके पास बैठ जाती है, रवि भी आकर बैठते हुए सोनिया को देख कर मुस्कुराने लगता है,

rajaarkey
Platinum Member
Posts: 3125
Joined: 10 Oct 2014 04:39

Re: कमीना

Unread post by rajaarkey » 27 Oct 2014 14:49

पायल ये मेरा भाई है रवि और रवि ये मेरी बेस्ट फ्रेंड है सोनिया, तेरी ही क्लास मे इसका अड्मिशन हुआ है,

रवि- सोनिया को मुस्कुराकर देखता हुआ, अच्छा मुझे तो पता ही नही था, कब आज ही लिया है आपने अड्मिशन

सोनिया- रवि को घूर कर देखती हुई, नही तीन दिन हो गये

रवि- मुस्कुरा कर सोनिया की आँखो मे देखता हुआ, क्या बात है आप तीन दिन से मेरी क्लास मे आ रही है और मेने

आपको आज पहली बार देखा है

सोनिया- रवि को घूर कर देखते हुए, आपका ध्यान कही और रहा होगा

रवि- सोनिया को देख कर मुस्कुराते हुए, सही कहा आपने दो दिन से मेरा ध्यान वाकई कही और था,

पायल- सोनिया तू बैठ मे तेरे लिए कॉफी बना कर लाती हू,

सोनिया- अरे यार तकलीफ़ क्यो करती है,

पायल- अरे इसमे तकलीफ़ की क्या बात है और किचन मे जाकर पायल कॉफी बनाने लगती है

सोनिया अपनी नज़रे उठा कर रवि को देखती है और रवि उसी को देख रहा था

सोनिया- तुम दिन भर मुझे घूरते क्यो रहते हो उस दिन क्लास मे भी सबके सामने

रवि- मुस्कुरा कर क्यो कि मे पहली नज़र मे ही तुमको अपना दिल दे बैठा हू,

सोनिया- मुस्कुरा कर ये आशिको वाली बाते खूब सुनी है मेने और कई आशिको को देखा भी है लेकिन मुझे इन सब बेकार

की बातो मे कोई दिल्लचस्पी नही है इसलिए तुम बेकार मे अपना वक़्त बर्बाद मत करो, और अपने हाथो से उसकी ओर चुटकी

बजाते हुए समझे मिस्टर. मजनू

रवि- सोनिया के करीब जाकर बैठता हुआ उसकी नशीली आँखो मे देख कर, धीरे से कहता है, मे तो तुम्हारे इस खूबसूरत

हुस्न पर मर मिटा हू और जब तक इन रसीले लबो का रस पी नही लेता मुझे चैन नही आने वाला है.

सोनिया- अपने चेहरे पर गुस्सा लाते हुए रवि को अपनी उंगली दिखा कर रवि अपनी हद मे रह कर बात करो वरना मुझ से

बुरा कोई नही होगा,

रवि- मुस्कुरा कर अरे तुम तो सीरीयस होने लगी, अच्छा बाबा मत पिलाना मुझे अपने होंठो का रस पर अब जब तुम मेरी

दीदी की दोस्त हो तो क्या हम दोस्त नही बन सकते, और अपना हाथ सोनिया की ओर बढ़ा देता है

सोनिया- थोड़ा मुस्कुरा कर उसे अपना हाथ देती हुई ओके और उसकी आँखो मे देखती हुई, लेकिन सिर्फ़ दोस्ती और कुछ नही

समझे,

रवि- मुस्कुराकर मे समझ गया, रवि उसकी तनी हुए चुचियो को देख कर मन ही मन कहता है मेरी रानी एक दिन

तुझे पूरी नंगी करके अपनी बाँहो मे भर कर तेरे हर अंग का रस नही पिया तो मेरा नाम भी रवि नही,

तभी पायल कॉफी लेकर आती है और सोनिया को देती है,

रवि- दीदी मेरे लिए

पायल- तूने अभी तो पी थी मेरे साथ

रवि- मुँह बना कर ओके

कुछ देर बैठने के बाद सोनिया वहाँ से चली जाती है

rajaarkey
Platinum Member
Posts: 3125
Joined: 10 Oct 2014 04:39

Re: कमीना

Unread post by rajaarkey » 27 Oct 2014 14:49

शाम को जब रोहित घर आता है तो पायल उसके लिए कॉफी लेकर आती है और

पायल -क्या बात है भैया आज आप बहुत खुस लग रहे है

रोहित - नही तो ऐसी तो कोई बात नही है,

पायल- नही भैया कुछ तो बात है आज आप कुछ अलग दिख रहे है

रोहित- मुस्कुरा कर तू तो लगता है मन की बाते भी जान लेती है तुझसे तो बच कर रहना पड़ेगा,

पायल- अब बताओ भी भैया पहेलिया क्यो बुझा रहे हो

रोहित- आक्च्युयली पायल मेने शादी करने का फ़ैसला कर लिया है,

पायल- चहकते हुए ग्रेट भैया

रोहित- तो तू ये नही पूछेगी कि किससे कर रहा हू

पायल- मे जानती हू

रोहित- चौक्ते हुए, तू कैसे जानती है

पायल- भैया आप उसी से शादी कर रहे है ना जो आपकी बुक के अंदर है

रोहित- मुस्कुराकर ओ तो तूने उसकी तस्वीर देख ली है

पायल- भैया भाभी तो बहुत अच्छी है कहाँ रहती है

रोहित- पायल आक्च्युयली वो मेरे बॉस की बेटी है उसका नाम निशा है

पायल- तो भैया कब मिलवा रहे हो मुझे अपनी भाभी से

रोहित- बहुत जल्द, अच्छा मे ज़रा एक ज़रूरी काम से अपने दोस्त के यहाँ जा रहा हू खाना भी उसी के साथ खाउन्गा तुम मेरे

लिए खाना मत बनाना ओके

पायल- ओके भैया ओर फिर रोहित चला जाता है

पायल दौड़ती हुई रवि के रूम मे जाती है जहा रवि अपने बेड पर लेटा हुआ था और पायल धम्म से जाकर रवि के उपर कूद

जाती है और रवि हाय मार डाला रे,

रवि- दीदी ये क्या तरीका है अभी मेरे पेट मे लग जाता

पायल- उसका पेट सहलाते हुए सॉरी-सॉरी और रवि के उपर झुक कर एक पप्पी ले लेती है

रवि- थोड़ा उठ कर तकिये का सहारा लेकर बैठते हुए, पायल को अजीब नज़रो से देखता हुआ, हे दीदी क्या बात है इतनी खुस

क्यो हो रही हो ऐसा क्या मिल गया तुमको

पायल- अरे पगले ऐसी न्यूज़ है कि तू सुनेगा तो पागल हो जाएगा,

रवि- पायल को देखता हुआ, क्यो ऐसी क्या बात है

पायल- अरे पगले भैया शादी कर रहे है

रवि- अपने मन मे खुद से बाते करता हुआ, लो गई भेस पानी मे चूत भैया को मिलने वाली है और खुजली इनकी बुर मे हो

रही है, अच्छा कौन है वो ख़ुसनसीब लड़की जो हमारी भाभी बनने वाली है

पायल- अरे वही लड़की जिसकी फोटो आज मेने तुझे दिखाई थी

पायल की बात सुन कर रवि का लंड करवट लेने लगता है, हाय वो गदराई लोंड़िया मेरी भाभी बन कर आएगी तो मेरा क्या

होगा, मे तो उसकी गदराई जवानी देख-देख कर पागल हो जाउन्गा

रवि- क्या बात कर रही हो दीदी वो लड़की हमारी भाभी बनेगी

पायल- हाँ और उसका नाम निशा है वो भैया के बॉस की बेटी है

रवि- पायल के दूध को घूर कर देखते हुए खुद से बाते करते हुए हे दीदी उसके तो दूध तुमसे भी मोटे-मोटे है

और उसका गुदाज पेट तो मेरे लंड को पागल कर देता है

पायल- अपने भाई की चुभती नज़र अपने दूध पर महसूस करती है और उसकी पीठ पर एक हाथ मारते हुए कमीना कह कर

चल देती है और

रवि - क्या हुआ दीदी, और अपनी बहन की गदराई मटकती गान्ड को देखने लगता है, तभी अपनी आदत के अनुसार पायल एक दम

पलट कर उसको देखती है और वह सकपका कर अपनी नज़रे हटा लेता है, पायल उसको खा जाने वाली नज़रो से घुरती हुई चली जाती है,

क्रमशः.........................