meri nangi bahan ko bathroom mai choda

Discover endless Hindi sex story and novels. Browse hindi sex stories, adult stories ,erotic stories. Visit pddspb.ru
User avatar
raj26
Rookie
Posts: 37
Joined: 03 Mar 2017 17:36

meri nangi bahan ko bathroom mai choda

Unread post by raj26 » 22 Mar 2017 07:36

ये चुदाई कहानी मेरी और बहन के बीच सेक्स की है. मैं एक मिडिल क्लास फॅमिली से हु और मेरा घर ज्यादा बड़ा नहीं है. मेरी फॅमिली में मेरे मम्मी पापा और मेरी बहन सोनी है. सोनी बहुत ही सुंदर है और उसकी हाइट ५’३” है और उसका रंग गोरा है. उसकी बॉडी स्लिम है और उसका फिगर ३४-३०-३४ का होगा. बात कुछ साल पहले की है. जब मेरी प्यारी बहन जवानी में कदम रख रही थी. और उसे नंगी देख के मेरे दिल में कसक जगी थी. चलिए आप को बताऊँ नंगी बहन का यह किस्सा. उसका बदन इतना अच्छा है, कि भी देखता रह जाए. पर मेरे मन में कभी ऐसा कोई बुरा ख्याल उसके लिए नहीं आया था. फिर एकदिन, घर वो अकेली थी और मम्मी बाजु वाली आंटी के घर गयी हुई थी और वो नहाने जा रही थी. मेरा घर छोटा होने के कारण बाथरूम अटैच्ड है.
तो मैं बिना नोंक करे अचानक से बाथरूम में घुस गया. जैसे ही मैने बाथरूम का दरवाजा खोला, तो मेरी आँखे खुली रह गयी. मेरी प्यारी बहन बिलकुल नंगी मेरे सामने खड़ी थी और मैं उलटे कदमो से वापस निकल गया. उसने भी अब दरवाजे को अन्दर से बंद कर लिया.मेरा सामान मेरी बहन के मस्त नंगे बदन को देखकर फुंकारने लगा था और मैने बाहर आके तुरंत मुठ मारी, आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। तब जाके मुझे कुछ सुकून मिला. फिर वो जब भी मेरे सामने आती, तो उसे बहुत शर्म आती और एक दिन मेरे घर में बुआ रहने आ गयी. तो मम्मी ने सोनी को कहा – कि तुम भैया के रूम में सो जाओ. वो मेरे रूम में आकार लेट गयी. मुझे रात में चाय पीने की आदत है. मैने उसे बोला – मेरे लिए चाय बना दो. वो चली गयी और फिर जब चाय लेकर लौटी, तो उसका पैर फर्श पर फिसल गया और वो स्लिप होकर गिर पड़ी और गरम चाय उसके शरीर पर गिर गयी. उसको काफी पेन हो रहा था.रात होने के कारण, मैने किसी को भी जगाना बेहतर नहीं समझा. मैने जल्दी से उसे उठाकर बेड की तरफ ले गया और बिठा दिया. मैने जल्दी से बर्नोल ट्यूब ले आया और उसको दे दी और बोला – ये लगा लो, दर्द कम हो जायेगा. उसने दवाई मुझसे ले ली और अपने हाथो और पैरो पर लगाने लगी. चाय गिरने की वजह से उसकी छीटे उसके पुरे बदन पर आई थी. वो अपनी पूरी बॉडी पर दवाई लगाने की कोशिश कर रही थी. पर वो अपनी पीठ पर हाथ नहीं लगा पा रही थी. उसने मुझे बोला – प्लीज यहाँ पर लगा दो. मैं हिम्मत करके उसके पास गया और उसको उल्टा लेटने को कहा. मैने ट्यूब हाथ में ले ली और जैसे ही मैने उसके बदन को छुआ, मेरे शरीर में करंट दौड़ गया. मैने फर्स्ट टाइम किसी को छुआ था और वो भी अपनी सगी …..

adult story, meri nangi bahan ko bathroom mai choda

बहन की इतनी सॉफ्ट पीठ थी, मैं आपको बता नहीं सकता. उसने जीन्स और टॉप पहनी हुई थी और टॉप लूज़ होने के कारण, मैने उसके अन्दर अपना हाथ डाल दिया. पर मैं दवाई सही से लगा नहीं पा रहा था, तो उसने कहा – भैया टॉप थोडा सा ऊपर कर दो और लगा दो. मैने उससे कहा – मेरा हाथ इससे ऊपर नहीं जा पा रहा है, तो उसने मुझे अपना टॉप थोडा और ऊपर करने को बोला. मैने उसकी टॉप को ऊपर कर दिया और अब मुझे उसकी ब्रा की बेल्ट दिखने लगी थी. मैं तो पागल हुआ जा रहा था, उसे देखकर. वो बोली – भैया लाइट बंद कर दो, मुझे अच्छा नहीं लग रहा है.तो मैने कहा – अंधेरे में सही से नहीं लग पायेगा. जब ब्रा बीच में होने की वजह से मेरा हाथ बार-बार फस रहा था, तो मैने कहा – और कहीं लगाना है. वो बोली – भैया, थोड़ी देर और मालिश कर दो. जलन ख़तम हो जाएगी. मैने कहा – ये टॉप उतार दू. वो बोली – ठीक है और मैने पीछे से उसका टॉप उतार दिया. अब वो सिर्फ पिंक ब्रा में थी. क्या लग रही थी, मैं आपको बता नहीं सकता. लेकिन फिर भी उसकी ब्रा मेरे हाथ हाथ में फस रही थी. जिसके कारण, मैं ट्यूब उसकी पीठ पर सही से लगा नहीं पा रहा था. मैने कहा – इसको थोड़ी देर के लिए खोल दू? वो बोली ठीक है और मैने उसकी ब्रा खोल दी और ट्यूब लगाने लगा. कभी-कभी मेरा हाथ उसकी चुचियो पर छु जाता, आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। तो वो अजीब सी आवाज़ निकालती. मैने ट्यूब लगाने के बाद, वापस ब्रा बंद की. वो बोली – भाई थोडा और नीचे भी लगा दो. मैंने कहा – कहाँ. तो उसने कहा – कमर के नीचे. मैने उसको कहा – तुमने तो जीन्स पहनी हुई है. वो बोली – इसको थोडा नीचे कर दो. फिर मैने उसको सीधा किया और उसकी जीन्स का बटन खोल कर उसकी जीन्स को नीचे करने लगा. जैसे ही मैने उसकी जीन्स नीचे की, मैं तो पागल हो गया. उसने जीन्स के नीचे पेंटी नहीं पहनी थी. मैं तो पागल हुए जा रहा था उसकी झांटो से भरी हुई चूत देखकर. मैने कहा – अब कहाँ पर लगाना है? उसने कहा – जहाँ भी आपका मन करे. फिर उसने बोला – भैया गर्मी बहुत लग रही है और ये कहकर उसने अपनी ब्रा भी उतार दी. अब वो मेरे सामने बिलकुल नंगी खड़ी थी और मैं उसको देखे ही जा रहा था. वो बोली – ऐसे क्या देख रहे हो, भैया. फिर मैं उसके पास गया और उसको अपनी बाहों में भर लिया और किस करने लगा. वो भी कहराने लगी. मैने कहा – तुम कितनी हॉट हो. वो बोली – अगर हॉट होती, तो आप इतनी देर ना लगाते.

मुझे ही सब कुछ उतारना पड़ा. मैंने कहा – मैं तुमको चोदना चाहता हु. वो बोली – पर ये किसी को पता नहीं चलना चाहिए. मैने कहा – ओके और मैं पागलो की तरह उसकी चुचियो को दबाने और पीने लगा. वो भी मस्त हो गयी और खूब मोअनींग करने लगी. फिर मैने भी अपने कपड़े उतार दिए और अपना लंड उससे चूसने को कहा. वो मना करने लगी. फिर मेरे फ़ोर्स करने पर मान गयी और उसने मेरे लंड को मुह में लेकर खूब मज़े से चूसा. फिर मैं भी ६९ पोजीशन में हो गया और उसकी चूत में मुह लगा दिया. उसकी वर्जिन चूत थी. जिसकी खुशबु तो आप सब जानते ही है. हम दोनों ने एक दुसरे का मुह में झडवा लिया.फिर वो मेरा लंड खड़ा करने लगी और मैने उसे बेड पर लिटाकर उसकी गांड के नीचे तकिया लगाया और अपना लंड उसकी चूत पर रगड़ने लगा.फिर धीरे से टोपा उसकी चूत के मुह पर रखकर झटका दिया, आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। जिससे मेरा आधा लंड उसके अन्दर चले गया. वो दर्द के कारण रोने लगी और फिर मैने उसके होठो पर किस करना चालू कर दिया. थोड़ी देर बाद, जब उसका दर्द कम हुआ तो वो अपनी गांड उठाने लगी, तो मैने दूसरा झटका मारा और अपना पूरा लंड उसकी चूत में उतार दिया और फिर उसको चोदने लगा. १५ मिनट चोदने के बाद, फिर मैंने इंग्लिश स्टाइल में चोदना चालू किया. मैने उसे खूब चोदा और वो भी बड़े मज़े लेकर चुदती रही. और कहने लगी – भैया आप मेरी चूत फाड़कर मुझे रंडी बना दो.. और चोदो भैया … और वो अहहः अहहहः करने लगी. मैं २ या ३ बार झड़ चूका था और वो भी. उस रात हम लोगो ने पूरी रात सिर्फ चुदाई की. बस मेरी और उसकी कहानी हर रात में होती है और मैं उसे हर रात को चोदता हु. मैं उसकी गांड भी मारता हु. कैसी लगी हम डॉनो भाई और बहन का सेक्स , रिप्लाइ जररूर करना

User avatar
Diljani
Pro Member
Posts: 185
Joined: 04 Mar 2017 20:32

Re: meri nangi bahan ko bathroom mai choda

Unread post by Diljani » 22 Mar 2017 14:06

nice good job Raj